डी ई आई के एन सी सी कैडेट्स ने दोहराया राष्ट्रपिता का स्वच्छ, स्वस्थ भारत का स्वप्न

एजुकेशन

आगरा : एनसीसी मुख्यालय द्वारा चलाये जा रहे स्वच्छ्ता पखवाड़ा के अन्तर्गत व महात्मा गाँधी जी की 150 वीं जयंती पर आज दिनांक 2 अक्टूबर पर दयालबाग शिक्षण संस्थान के एन सी सी कैडेट्स ने  स्वच्छ्ता साइकिल प्रभात रैली का आयोजन किया गया।  रैली का प्रारम्भ एनसीसी कैडेट्स ने स्वच्छ्ता शपथ दोहरा कर किया। इस दौरान नगर पंचायत दयालबाग की अधिशासी अधिकारी सुश्री अनामिका मौर्य तथा नगर पंचायत दयालबाग के सफाई सेवकों ने भी अपनी प्रतिभागिता दी। कैडेट्स को संबोधित करते हुए सुश्री अनामिका ने कैडेट्स को सिंगल यूज़ प्लास्टिक से होने वाले कुप्रभावों की जानकारी दी और भारत सरकार द्वारा एकल यूज़ प्लास्टिक के  पूर्णप्रतिबंधन पर प्रकाश डाला और समाज को इसके लिए जागरूक करने के लिए प्रतेयक कैडेट को संदेश वाहक बताया। आज के आयोजन में डी ई आई के ९७ कैडेट्स और डी ई आई प्रेम विद्यालय की ३३ गर्ल्स कैडेट्स ने जोश और उल्लास के साथ बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। इस दौरान स्वच्छता पखवाड़े के दौरान संस्थान में की विभिन्न गतिविधियों की जानकारी सीनियर अंडर अफसर शिवम तिवारी द्वारा दी गयी। कंपनी कमांडर लेफ्टिनेंट मनीष कुमार ने कैडेट्स को एकल यूज़ प्लास्टिक से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले कुप्रभावों को समझाया उन्होंने बताया कि आजकल कैंसर जैसी जटिल बीमारी ऐसे लोगों को भी हो रही है जिन्होंने न तो कभी तंबाकू अथवा तम्बाकू पदार्थों का सेवन किया है, इसमें एकल यूज़ प्लासिटक की अहम भूमिका है, इसलिए इसके इस्तेमाल को शीघ्र अतिशीघ्र रोकना होगा। एन सी सी अधिकारी लेफ्टिनेंट सूरत ने स्वछता पर ज़ोर दिया और स्वछता शपथ में अपने आसपास के वातावरण को साफ रखने का आह्वान किया। कैडेट्स ने स्वनिर्मित पोस्टर तथा नारों और स्वच्छता गान से जन मानस को साफ़ सफाई के महत्व और एकल यूज़ प्लास्टिक के इस्तेमाल को पूर्णतः बंद करने का संदेह दिया। रैली का आगाज नगर पंचायत दयालबाग से भगवान टॉकीज,दीवानी,सूरसदन , हरीपर्वत , कॉसमॉस मॉल होते हुए नगर पंचायत दयालबाग पर संपन्न हुई। इस दौरान कैडेट्स ने नगर पंचायत परिसर में श्रमदान भी किया। कार्यक्रम का कुशल संचालन सीनियर अंडर ऑफिसर शिवम् तिवारी ने किया जिसमें अंडर ऑफिसर रजत सिंह परिहार, सनी कुमार, कैडेट मोहित कुमार, सतेंद्र शर्मा , एस यू ओ अस्तुति गोगिया, कैडेट सलोनी, सार्जेंट अवनीशधन , कैडेट द्वारिकाधिस, नवीन कुमार, लव चौधरी व रूपेश चौधरी ने महत्वपूर्ण योगदान दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *