जीव जन्तुओं को बंदूक से नहीं कैमरे से शूट करें

एजुकेशन

कैस्पर्स होम द्वारा होली पब्लिक स्कूल में आयोजित की गई ड्रिंग पेंटिंग प्रतियोगिता

बच्चों की पेंटिंग बनी बेजुबान जीव जन्तुओं की जुबान, चित्रों के माद्यम से व्यक्त की जानवरों की पीड़ा और समस्या

आगरा। बेजुबान जीव जन्तुओं की आवाज आज नन्हें-मुन्ने बच्चों की पेंटिंग बनी। जीव जन्तुओं के साथ होने वाली क्रूरता को विद्यार्थियों ने कागज पर उकेरते हुए कटते जंगलों, घटती हरियाली के कारण जानवरों के घटते आवास पर भी चिन्ता व्यक्त की। मौका था कैस्पर्स होम द्वारा होली पब्लिक स्कूल, सिकन्दरा में काइन्डनेस टुवर्ड्स एनीमल विषय पर दो वर्गों में (कक्षा 5 से 12 तक) आयोजित ड्राइंग पेंटिग प्रतियोगिता का। जिसमें लगभग 150 विद्यार्तियों ने उत्साह व उमंग के साथ भाग लिया।

 

कैस्पर्स होम की निदेशक विनीता अरोरा ने इस अवसर पर बच्चों को अपने आप-पास के जीव जन्तुओं जैसे, पक्षी, श्वान, गाय, घोड़े आदि के साथ किए जाने वाले अच्छे व्यवहार के प्रति जागरूक किया। साथ ही चीफ वैटेनरी ऑफिसर के साथ तैयार की गई एंटी क्रूएलटी टीम के बारे में जानकारी दी। जहां किसी भी जानवर के साथ होने वाली क्रूरता के बारे में जानकारी प्रदान की जा सकती है। ड्राइंग पेंटिंग प्रतियोगिता के माध्यम से विद्यार्थियों ने जीव जन्तुओं को पिंजरे में कैद न करने, उनके साथ अच्छा व्यवहार करने, पक्षियों के आवास व भोजन के लिए फलदार पौधे लगाने का संदेश दिया। चित्रों के माध्यम से बताया कि जानवर सच्चे मित्र भी होते हैं। खाद्य श्रंखला के माध्यम से बताया कि यदि जीव जन्तु हैं तो हमारा भी अस्तित्व है। प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी बच्चों को कैस्पर्स होम की ओर से कल प्रमाण पत्र प्रदान किए जाएंगे। सीनियर वर्ग में प्रथम अनिका, द्वितीय समर व तृतीय पुरस्कार अनुभव अग्रवाल ने जीता। जूनियर वर्ग में प्रथम अलीशा कुरैशी, द्वितीय शीरी व तीसरे स्थान पर सानिया रहीं। सान्तवना पुरस्कार सुरमयी अग्रवाल, सौम्या सिंह, विशाखा मोहन्टा, बैष्णवी शर्मा, कैशव सिंह, वंदना चौहान को प्रदान किए जाएंगे। इस अवसर पर स्कूल की उपप्रधानाचार्य मोनिका सिंह, तान्या, कैस्पर्स होम से ध्रुव तिवारी, किरन सेतिया, सम्यक जैन, विक्की दिवाकर, रिद्दी वाधवा आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *